ट्रैन से गिरा बुजुर्ग, जान बचाने की हुई कोशिश, पर हो गई मौत

दो किलोमीटर पैदल लाकर जान बचाने का 108 स्टाफ ने किया प्रयास, घोड़ाडोंगरी अस्पताल में इलाज के दौरान मृत्यु

  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    बैतूल जिले के घोड़ाडोंगरी रेलवे स्टेशन से करीब 2 किलोमीटर दूर पटरी पर घायल अवस्था में मिले अज्ञात वृद्ध को 108 के कर्मचारियों ने 2 किमी पैदल चल कर जान बचाने की कोशिश की, पर यह कोशिश कामयाब नहीं हो पाई। घोड़ाडोंगरी अस्पताल में इलाज के दौरान बुजुर्ग की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार घोड़ाडोंगरी में सड़क से 2 किमी दूर पटरी के किनारे घायल अवस्था में वृद्ध के पड़े होने की सूचना 108 को मिली थी। वृद्ध की ट्रेन से गिरने की आशंका जताई जा रही है। सूचना मिलते ही 108 की टीम मौके पर पहुंची और टीम ने एम्बुलेंस तक मरीज को करीब 2 किमी पैदल चल कर लाया और गंभीर हालत में घोड़ाडोंगरी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में प्राथमिक उपचार हेतु भर्ती कराया। 108 के स्टॉफ जितेंद्र पवार और नवनीत ने बताया 108 एंबुलेंस घटनास्थल तक पहुंचने में असमर्थ थी जिससे मरीज को स्ट्रेचर पर रखकर 2 किमी पैदल चल कर एंबुलेंस तक लाया गया। इसके बाद घोड़ाडोंगरी के सरकारी अस्पताल में वृद्ध को पहुंचाया गया। उपचार के दौरान वृद्ध की मौत हो गई।
  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.

    Leave A Reply

    Your email address will not be published.