खुलासा: दोस्त ने ही की थी घाटबिरोली के कोटवार की हत्या

भंडारे में साथ में भोजन नहीं करने को लेकर हुआ था दोनों का विवाद

  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    बैतूल जिले के मुलताई थाना क्षेत्र की पुलिस चौकी दुनावा क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम घाटबिरोली में हुए कोटवार के अंधे कत्ल का खुलासा पुलिस ने कर लिया है। भंडारे में साथ में भोजन नहीं करने को लेकर विवाद के बाद मृतक के दोस्त ने ही सिर पर पत्थर मार कर हत्या की थी। पुलिस ने हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।
    पुलिस को 19 नवंबर को सूचना प्राप्त हुई थी कि ग्राम घाटबिरोली में ग्राम चौकीदार महेश पिता बाबू सूर्यवंशी की किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा मारपीट कर हत्या कर दी गई है। इस मामले का खुलासा करने एक टीम गठित की गई। टीम के द्वारा घटना स्थल ग्राम घाटबिरोली में अजाबराव बारस्कर के घर के सामने मृतक महेश सूर्यवंशी के शव का निरीक्षण करने पर पाया गया कि मृतक महेश की मृत्यु किसी ठोस वस्तु के द्वारा सिर में प्रहार करने से आई चोटों के कारण हुई है। इस पर मौके पर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। मौके पर ही सीन आफ क्राइम यूनिट थाने के द्वारा घटना स्थल को सुरक्षित कर साक्ष्य संकलित किए गए। आरोपी के बारे में पतारसी करने पर पता चला कि मृतक का घटना दिनांक की शाम को ग्राम घाटबिरोली में ही रहने वाले अपने दोस्त खुश्याल उर्फ कोमल पिता महादेव विश्वकर्मा (21) के साथ झगड़ा हुआ था। शाम को लक्ष्मीजी के भण्डारे में भोजन करते समय मृतक महेश अत्यधिक शराब के नशे में था। इससे साथ में खाना खाने से मना करने की बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हुआ था। इसके बाद वापस अपने घर जाते समय अजाबराव बारस्कर के घर के सामने खुश्याल व महेश सूर्यवंशी का आपस में झगड़ा हुआ था। इस पर खुश्याल ने महेश को जमीन पर गिरा लिया और पास में अजाबराव बारस्कर की दीवार के पास से पत्थर उठा कर महेश के सिर पर मार दिया। इससे महेश की मौके पर ही मृत्यु हो गई। अभियुक्त खुश्याल उर्फ कोमल को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ करने पर उसने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया। आरोपी को गिरफ्तार कर कार्यवाही की जा रही है।

  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.