पारंपरिक वेषभूषा में भोपाल जाएंगे जनजातीय समाज के लोग

जनजातीय गौरव दिवस: जिले से 15 हजार लोगों के शामिल होने की संभावना

कार्यक्रम की तैयारी को लेकर भाजपा जिलाध्यक्ष ने किया वर्चुअल संवाद

बैतूल। आगामी 15 नवंबर को भोपाल के जंबूरी मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गरिमामय उपस्थिति में भगवान बिरसा मुंडा की जयंती पर आयोजित होने वाले जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम में बैतूल जिले से लगभग 15 हजार जनजातीय समाज के लोग शामिल होंगे। इसमें बड़ी संख्या में महिलाएं भी रहेंगी।
शुक्रवार को भाजपा जिलाध्यक्ष आदित्य बबला शुक्ला ने गौरव दिवस कार्यक्रम के जनपदों के प्रभारी, सह प्रभारी, जिला पदाधिकारियों, मंडल अध्यक्षों से वर्चुअल बैठक कर समीक्षा की। वर्चुअल बैठक में सांसद दुर्गादास उइके, पूर्व सांसद हेमंत खंडेलवाल का मार्गदर्शन कार्यकर्ताओ को मिला। श्री शुक्ला ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों से जनजातीय समाज के लोग पारंपरिक वेषभूषा और नृत्य दल भी जाएं, इसका विषेष ध्यान रखना है। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में बैतूल जिले का प्रतिनिधित्व अच्छा हो, इसकी सभी को चिंता करना है। समीक्षा बैठक में जिलाध्यक्ष श्री शुक्ला ने जनपदवार व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि बसों में पार्टी के जिम्मेदार कार्यकर्ता साथ में रहे। सांसद दुर्गादास उइके ने कहा कि प्रदेश के लिए 15 नवंबर का दिन स्वर्णिम होगा, जब देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जनजातीय समाज के लोगों के साथ भगवान बिरसा मुंडा की जयंती मनाएंगे। पूर्व सांसद हेमंत खंडेलवाल ने कहा कि जिले से अधिक से अधिक संख्या में जनजातीय समाज के भाई-बहन भोपाल पहुंचे, इसके लिए सभी कार्यकर्ताओं को पूरी ताकत लगानी है। वर्चुअल बैठक का समन्वय अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश मीडिया प्रभारी अबिजर हुसैन ने किया।