मिट्टी को ही बना देंगे फौलाद, गिट्टी का 70 प्रतिशत कम उपयोग

खापरखेड़ा जोड़ से झाड़ेगांव मार्ग तक बनने नई तकनीक से बनने वाली जिले की पहली सड़क

  • उत्तम मालवीय, बैतूल © 9425003881
    खापरखेड़ा जोड़ से झाड़ेगांव मार्ग तक बनने वाली 2.6 किलोमीटर लंबी सड़क नई तकनीक से बनने वाली जिले की पहली सड़क है। सांसद डीडी उइके ने गुरूवार को प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजनांतर्गत स्वीकृत इस सड़क का भूमिपूजन किया। इस मार्ग की लागत 120.52 लाख रुपये हैं। लागत कम होने के बावजूद यह परंपरागत तकनीक से बनने वाली अन्य सड़कों के मुकाबले अधिक मजबूत होगी।
    प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के महाप्रबंधक राजेश जैन बताते हैं कि इस नई तकनीक की खासियत यह है कि इसमें गिट्टी से सड़क को मजबूती देने के बजाय मिट्टी को ही केमिकल की मदद से मजबूत बना दिया जाएगा। सड़क बनाने का कार्य भी इस तकनीक का इजाद करने वाली कंपनी और वैज्ञानिकों की देखरेख में ही किया जाएगा। श्री जैन के मुताबिक नई तकनीक से बनने वाली इस सड़क में गिट्टी का उपयोग 70 प्रतिशत कम होगा और महज 30 प्रतिशत गिट्टी का ही इस्तेमाल किया जाएगा। कम गिट्टी का उपयोग इसलिए होगा क्योंकि केमिकल्स का इस्तेमाल कर मिट्टी को ही मजबूती प्रदान की जाएगी। सड़क की मजबूती में कोई भी कमी नहीं आएगी। इस तकनीक से सड़क बनाने वाली पूरे मध्यप्रदेश में एक ही कंपनी है और उसी के द्वारा यह सड़क बनाई जाएगी।

    लागत कम, पर्यावरण भी नहीं होगा दूषित
    महाप्रबंधक श्री जैन के अनुसार नई तकनीक से सड़क निर्माण की लागत में भी कमी आएगी। इससे 2 तिहाई कम लागत में ही सड़क निर्माण हो जाएगा। यदि कोई सड़क परंपरागत तकनीक से एक करोड़ में बनती है तो इस नई तकनीक से मात्र 70 लाख रुपये में ही बन जाएगी। इससे भी बड़ा फायदा यह होगा कि पर्यावरण को होने वाली क्षति में भी कमी आएगी। गिट्टी बनाने और उसके परिवहन से होने वाले प्रदूषण में खासी कमी आएगी। यही कारण है कि नई तकनीक को पर्यावरण के लिए भी बेहद फायदेमंद माना जा रहा है।
    इस सड़क से 8 गांव हो सकेंगे लाभान्वित: सांसद
    सांसद श्री उइके ने भूमिपूजन कार्यक्रम में संबोधित करते हुए बताया कि यह सड़क पुरानी सड़ककी तुलना में ज्यादा मजबूत होगी। इस सड़क के निर्माण से आठ गांवों के ग्रामीण लाभान्वित होंगे। इस मार्ग पर ग्राम पंचायत मुख्यालय, पेट्रोल पंप, प्रायमरी हेल्थ सेंटर, पशु चिकित्सालय, हाईस्कूल, हायर सेकेंडरी स्कूल एवं अन्य सुविधाएं उपलब्ध हैं, जिसका सीधा लाभ ग्रामीणों को मिलेगा एवं उनकी सुविधाओं में वृद्धि होगी। सांसद श्री उइके ने इस दौरान टेमनी में सांसद निधि से निर्मित सामुदायिक भवन का लोकार्पण भी किया।

  • Get real time updates directly on you device, subscribe now.

    Leave A Reply

    Your email address will not be published.